five symptoms of diabetes in hindi

डायबिटीज के पांच लक्षण-


डायबिटीज यानी मधुमेह अर्थात् रक्त में चीनी की मात्रा अधिक हो जाना।
इस बीमारी से उम्र के साथ लगभग हर व्यस्क पांचवा व्यक्ति ग्रसित हो जाता है भारत में इस बीमारी से लाखों-करोड़ों व्यक्ति ग्रसित हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार इस बीमारी से दुनिया भर में 42 करोड़ से अधिक लोग डायबिटीज या मधुमेह से ग्रसित हैं।
इस बीमारी से बचने के लिए अपने खाने पीने में चीनी की मात्रा कम करने और अपने खान-पान पर ध्यान रखने से इस बीमारी से बचा जा सकता है।

मधुमेह हो जाने पर किसी व्यस्क व्यक्ति को आंख, त्वचा, स्नायु तंत्र और ह्रदय संबंधी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है।

आइए अब जान लेते हैं मधुमेह के पांच लक्षण क्या हैं और इन से कैसे बचा जा सकता है?

डायबिटीज के पांच लक्षण-

1- बार-बार प्यास लगना
(आप एक व्यस्क व्यक्ति हैं और आपको बार-बार प्यास लग रही है और उसके तुरंत बाद ही आपको उत्सर्जन की उत्कंठा है तो आपको आसपास के किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।)

2- घाव जल्दी ठीक ना होनायह डायबिटीज होने का सबसे पहले दिखाई देने वाला लक्षण है क्योंकि अगर किसी व्यक्ति को चोट लग जाती है और वह चोट समय के साथ ठीक नहीं होता है तो उस व्यक्ति को डायबिटीज होने का खतरा रहता है।
बहुत से लोगों में देखा जाता है कि टाइप टू डायबिटीज बीमारी है।

3- पैर में झनझनाहट या सुई चुभने जैसा महसूस होना
अगर आपको बैठते वक्त या सोते वक्त आपके पैर में किसी प्रकार की अप्राकृतिक झनझनाहट या आपके पैर में कांटा चुभने जैसा महसूस होता है तो आपको अपने डॉक्टर से तुरंत सलाह लेनी चाहिए।

4- वजन में कमी आना
आपका वजन ठीक ठाक खानपान के बाद भी बहुत ही तेजी से कम हो रहा है यह डायबिटीज का संकेत हो सकता है।

5- साफ-साफ दिखाई ना देना

अगर आपको ठीक से दिखाई नहीं दे रहा है या आपकी आंखों के सामने कभी कभी अंधेरा या कुछ धब्बेदार चीज है जाती हुई दिखाई देने लगती हैं दो यह डायबिटीज के लक्षण है इसलिए आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए.

Leave a Comment