Subah ke nashte mein kya khayein?

सुबह के नाश्ते में क्या खाएं? इस बात का ध्यान शायद ही कोई रखता होगा क्योंकि सुबह-सुबह काम पर जाने कि जल्दीबाज़ी में हम कुछ भी खा लेते है जिससे कि बस हमारा पेट भर जाएँ.


सुबह के नाश्ते में तैलीय भोजन की मात्रा कम होनी चाहिए और अगर सुबह में कार्बोहाइड्रेट युक्त आहार किया जाए तो काम करते समय आलस्य कमजोरी महसूस नहीं होती है।

अगर आपका जीवन शैली काफी व्यस्त है और आपके दोपहर के भोजन और सुबह के नाश्ते में काफी अंतर रहता है तो आपको नीचे दिए गए पक्वानों का सेवन जरूर करें।

सुबह के नाश्ते में यह खाएं- Subah ke naste mein yah khayein-

दलिया का समावेश करें- अगर संभव हो सके तो अपने सुबह के नाश्ते में दलिया का समावेश जरूर करें, क्या आपके कोलेस्ट्रॉल के अस्तर औरआपके वजन पर नियंत्रण रखता है। दरिया से आपको फाइबर की आपूर्ति हो जाती है।

पोटेशियम युक्त फल- नाश्ते में केले का सेवन या केले का शेक जूस स्वास्थ्यवर्धक साबित हो सकता है। केले का सेवन प्रतिदिन किया जाए तो इससे शरीर में कैलशियम पोटैशियम मैग्निशियम मिनरल और विटामिंस की उचित मात्रा बनी रहती है।

जामुन – संभव हो तो नाश्ते में जामुन को जरूर खाएं इससे शरीर को स्वस्थ रखने में सहायता मिलते हैं और वजन भी नियंत्रण में रहता है।


मट्ठा/छाछ- दही से बना हुआ छाछ पीने से वजन नियंत्रण रहता है और पाचन तंत्र सुचारू रूप से काम करता है।


ग्रीन टी- सुबह दूध वाली चाय या लाल चाय पीने के बजाय आपको ग्रीन टी पीनी चाहिए। पीने से ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है और वजन भी नहीं बढ़ता है।

अंडे- सुबह नाश्ते में अंडे खाने से हमारे शरीर में कैलोरी की मात्रा और रक्त शर्करा और इंसुलिन का स्तर बनाए रखने में मददगार होता है।
अंडा जरूर खाना चाहिए इससे उनका पेट भरा भरा भी रहता है।अंडे का सेवन करने से नेत्र विकार जैसे मोतियाबिंद दावेदार दिखाई देना इत्यादि प्रकार की विकारों से बचा जा सकता है। अंडे में कोली नामक पदार्थ होता है जो हमारे मस्तिष्क और यकृत को स्वस्थ बनाए रखने में एवं उससे पोषक तत्व उपलब्ध कराने का एक अच्छा स्रोत है। अंडे को बहुत ही आसानी से उबाला जा सकता है और फटाफट खाया भी जा सकता है।



दही- सुबह नाश्ते में मलाईदार स्वादिष्ट और पौष्टिक दही बहुत ही लाभदायक है। अगर दही में मलाईदार परत है तो इसका क्या कहना। इस मलाई की परत में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। दही खाने से हमारे शरीर में हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है और यह हमारे शरीर में हार्मोन को बनाने की प्रक्रिया को तेज कर देता है।

जई- अगर आप नाश्ते में जई यादों से बनी किसी भी प्रकार के आहार ग्रहण करते हैं तो आपको इसमें एक बहुत ही जरूरी फाइबर मिलता है जिसे ओट बिटा ग्लूकॉन कहां जाता है। बॉक्स में प्रचुर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट में पाया जाता है जो हमारे शरीर में अतिरिक्त चर्बी बढ़ने से रोकता है और यह एंटी ऑक्सीडेंट हमारे हृदय को भी स्वस्थ रखता है तथा रक्तचाप में सामान्यता लाता है.



बादाम- सुबह नाश्ते में बादाम का सेवन एक बढ़िया अतिरिक्त भोजन है बादाम के सेवन से हमारे शरीर में बहुत अधिक कैलोरी मिलती है इससे आपको तैलीय भोजन ग्रहण करने की जरूरत नहीं पड़ती है। ह्रदय रोग से संबंधित व्यक्ति को बादाम जरूर देना चाहिए जिससे हार्ट अटैक आने का खतरा जलन और इंसुलिन के प्रतिरोध की क्षमता को एवं सूजन को कम करता है।
बादाम में प्रचुर मात्रा में मैग्नीशियम पोटेशियम और मोनोसैचुरेटेड फत मिलता है जो कि एक बहुत ही अच्छा पोषक तत्वों का स्रोत है।

प्रोटीन शेक- दिन की शुरुआत करने से पहले एक शानदार स्मूथ प्रोटीन शेक पी लिया जाए तो दिन भर थकान नहीं लगती है। प्रोटीन पाउडर, मट्ठा, के साथ उपयोग किया जा सकता है। प्रोटीन शेक पीने से हमारे शरीर में प्रोटीन की मात्रा बनी रहती है और शरीर ऊर्जा से भरा रहता है।



मौसमी फल- फल एक पौष्टिक नाश्ते का हिस्सा होता है सभी प्रकार के फलों का सेवन करने से विटामिन पोटेशियम फाइबर युक्त पोषक तत्व मिलते हैं इसलिए अपने नाश्ते में एक से जरूर खाएं या हो सके तो किसी भी प्रकार के मौसमी फल का जूस बनाकर जरूर पिए। आप इस जूस को फ्रिज में रख कर दो-तीन दिन तक सुरक्षित रख सकते हैं और बाद में इसका सेवन कर सकते हैं।

Leave a Comment